Hosting क्या है पूरी तरह से जानकारी | What is Hosting full Info

Hosting का अर्थ कई लोगों के लिए एक पहेली बन गई है और विशेष रूप से उन लोगों के लिए जो अपना ऑनलाइन व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं, जिसके लिए एक वेबसाइट की आवश्यकता होती है।

क्योंकि इंटरनेट पर कोई भी कार्य केवल वेबसाइट के माध्यम से ही संभव है, चाहे वह जानकारी प्राप्त करना हो, ऑनलाइन शॉपिंग करना हो, सरकारी नौकरी के लिए फॉर्म भरना हो, आदि कई कार्य वेबसाइट के माध्यम से ही संभव हैं।

What is Hosting
What is Hosting

hosting meaning kya hai हिंदी
किसी भी वेबसाइट को बनाने के लिए दो महत्वपूर्ण बातों की आवश्यकता होती है 1. होस्टिंग और 2. एक डोमेन, वेबसाइट बनाने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, लेकिन यह होस्टिंग अर्थ क्या है? वेबसाइट बनाने के लिए क्यों जरूरी है और कौन सी होस्टिंग खरीदें आदि।

आज आपको इन सभी सवालों के जवाब बहुत ही सरल भाषा में मिलने वाले हैं और अगर आप इस लेख को पूरी तरह से पढ़ते हैं, तो आपके दिमाग में होस्टिंग से जुड़े शायद ही कोई सवाल होंगे।

वेब hosting के बारे में पूरी जानकारी

जो लोग वेबसाइट बनाने के बारे में सोच रहे हैं वे वेब hosting के बारे में इस सवाल पर आते हैं, ज्यादातर लोग होस्टिंग के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं, इसलिए वे गलत होस्टिंग चुनते हैं, उनकी वेबसाइट Google पर ठीक से रैंक नहीं होती।

इसीलिए हम आपको वेब होस्टिंग के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं साथ ही आपको टॉप 3 वेब होस्टिंग के बारे में भी बताएंगे ताकि आप अपनी साइट के लिए सही होस्टिंग चुन सकें।

Hosting का मतलब क्या है

हिंदी में होस्टिंग का अर्थ है “मेजबानी” और होस्ट का कहना है कि जो घर पर मेहमान का स्वागत करता है, उसी तरह से वेब होस्टिंग का मतलब है इंटरनेट पर होस्टिंग।

यदि कोई उपयोगकर्ता इंटरनेट पर हमारी वेबसाइट का उपयोग करने के लिए आता है, तो हमें सबसे अच्छी सेवा प्रदान करनी होगी, यदि वह हमारे ब्लॉग / वेबसाइट पर कोई भी जानकारी लेने के लिए आया है, तो हमें अच्छी जानकारी देनी चाहिए ताकि वह पूरी तरह से संतुष्ट हो सके।

वेब होस्टिंग क्या है

जब हम किसी भी वेबसाइट को देखते हैं तो हमें उसमें बहुत सारे टेक्स्ट, फोटो और वीडियो देखने को मिलते हैं, यहाँ तक कि उसकी खुद की वेबसाइट में भी कोडिंग फाइल होती है।

इंटरनेट पर यह सभी डेटा प्राप्त करने के लिए, इसे ऐसी जगह संग्रहीत करना आवश्यक है कि कोई भी उपयोगकर्ता इस डेटा को इंटरनेट के माध्यम से एक्सेस कर सके और वह जानकारी प्राप्त कर सके।

सरल शब्दों में, जैसे आपके मोबाइल में मेमोरी कार्ड होता है और कंप्यूटर में ROM स्टोरेज होता है, वैसे ही, वेब होस्टिंग आपको स्पेस और स्टोरेज प्रदान करती है, जिसमें आपकी वेबसाइट पर डाले जाने वाले टेक्स्ट, फोटो और वीडियो के लिए जगह उपलब्ध कराई जाती है।

यदि आप चाहें, तो आप अपना खुद का कंप्यूटर सर्वर बना सकते हैं और इंटरनेट के माध्यम से अपनी वेबसाइट के डेटा को होस्ट कर सकते हैं, लेकिन ऐसा करना बहुत मुश्किल है और इसके लिए हमें बहुत सारे ज्ञान की भी आवश्यकता है।

इसके अलावा, रखरखाव और रखरखाव की भी बहुत आवश्यकता है। किसी के कंप्यूटर से किसी वेबसाइट को होस्ट करने में सबसे बड़ी समस्या यह है कि यदि आपका सिस्टम बंद हो जाता है तो कोई भी उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट तक नहीं पहुंच पाएगा।

कई कंपनियाँ हैं जो वेबसाइट को होस्ट करने के लिए आपकी वेबसाइट को पैसे के साथ होस्ट करती हैं। इन कंपनियों के सर्वर बहुत शक्तिशाली होते हैं ताकि आपकी साइट कभी बंद न हो और उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट या ब्लॉग पर भी आसानी से पहुँच सके। है।

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है

वेब होस्टिंग का कार्य हमारे डेटा को इंटरनेट पर लाना है ताकि कोई भी उपयोगकर्ता हमारी वेबसाइट का उपयोग कर सके और हमारी वेबसाइट का उपयोग कर सके।

किसी भी वेबसाइट को बनाने के लिए, हमें वेबसाइट का नाम यानि डोमेन नाम वेब होस्टिंग सर्वर से जोड़ना होगा जो हमारी वेबसाइट बनाता है और वेबसाइट का URL प्राप्त करता है।

किसी भी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए, हमें उस वेबसाइट का URL जानना होगा। URL उस वेबसाइट का पता होता है जब हम किसी वेब ब्राउज़र में URL दर्ज करते हैं, क्योंकि इंटरनेट पर मौजूद वेब ब्राउजर हमारी वेबसाइट को इंटरनेट पर खोजता है।

चूंकि हमारी वेबसाइट का डेटा वेब होस्टिंग के कारण इंटरनेट पर मौजूद है, इसलिए हमारी वेबसाइट वेब ब्राउज़र पर लाइव होती है और इस तरह से वेब होस्टिंग काम करती है।

वेब होस्टिंग के कितने प्रकार – Hosting Types

इंटरनेट पर कई तरह की वेबसाइट्स हैं और उनका काम भी अलग है, इसलिए सभी वेबसाइट्स को किसी भी तरह की होस्टिंग की जरूरत नहीं होती है, लेकिन वेबसाइट के मुताबिक कई तरह की होस्टिंग कंपनियां उन्हें मुहैया कराती हैं।

वेब होस्टिंग को उनके प्रदर्शन, दर, बैंडविड्थ, गति आदि के आधार पर भी विभाजित किया जाता है। इंटरनेट पर मुख्य 4 होस्टिंग बहुत लोकप्रिय हैं जैसे कि साझा, वीपीएस होस्टिंग, समर्पित होस्टिंग और क्लाउड होस्टिंग।

लेकिन इन सभी प्रकारों की मेजबानी के अलावा, होस्टिंग कंपनियां अन्य प्रकार की वेब होस्टिंग भी प्रदान करती हैं जैसे – वर्डप्रेस होस्टिंग, रीसेलर होस्टिंग, वू-कॉमर्स होस्टिंग, आदि।

वेबसाइट या ब्लॉग बनाने के लिए, आपको पता होना चाहिए कि इनमें से कौन सी होस्टिंग, कब और क्यों आपको यह सब होस्टिंग लेनी चाहिए, ताकि जब आप होस्टिंग खरीदें, तो कोई गलती न हो,

Top 3 Web Hosting Indian ब्लॉगर के लिए

यदि आप ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपके लिए होस्टिंग को सही तरीके से चुनना बहुत आवश्यक है क्योंकि एक ब्लॉगर के लिए सबसे अच्छी होस्टिंग उसके ब्लॉगिंग कैरियर को सफल बनाने में योगदान देती है।

यहां हम आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों ब्लॉगर्स के लिए सर्वश्रेष्ठ होस्टिंग के बारे में बताएंगे और साथ ही आपको यह होस्टिंग क्यों लेनी चाहिए ताकि आप सभी चीजों को ठीक से समझ सकें।

Host-gator

यह कंपनी एक भरोसेमंद कंपनी है और लगभग सभी बड़े ब्लॉगर इस वेब होस्टिंग को लेने के लिए कहते हैं। इस कंपनी के सर्वर भारत और अमेरिका में मौजूद हैं।

यदि आप ब्लॉगिंग के लिए पूरी तरह से नए हैं और एक ब्लॉगिंग कैरियर शुरू करना चाहते हैं, तो आपके लिए इस कंपनी की वेब होस्टिंग प्राप्त करना पूरी तरह से सही होगा क्योंकि इसकी सहायक प्रणाली बहुत सहायक है।

यह होस्टिंग उन लोगों के लिए भी उपयुक्त है जिनकी वेबसाइट या ब्लॉग को बहुत अधिक ट्रैफ़िक मिलता है और वे बहुत अधिक आय भी कर रहे हैं।

Bluehost

यह एक बहुत ही लोकप्रिय वेब होस्टिंग कंपनी है। बड़े ब्लॉगर इस होस्टिंग की सलाह जरूर देते हैं। यदि आप अपनी वेबसाइट के लिए अच्छी होस्टिंग चाहते हैं, तो आप इसे ले सकते हैं।

Site ground

यह एक बहुत ही लोकप्रिय वेब होस्टिंग कंपनी है और बड़े ब्लॉगर और सहबद्ध विपणक इस वेब होस्टिंग का उपयोग करते हैं। अगर आप अंग्रेजी वेबसाइट के लिए होस्टिंग लेने की सोच रहे हैं तो यह सबसे अच्छी वेब होस्टिंग कंपनी है।

यह होस्टिंग कंपनी समर्थन के मामले में सभी होस्टिंग कंपनियों में सबसे आगे है और वे वेबसाइट के साथ किसी भी समस्या के मामले में त्वरित प्रतिक्रिया देते हैं।

WordPress.org भी Bluehost और Siteground को सबसे अधिक लेने का सुझाव देता है, इसलिए यदि आपका बजट अधिक है और आप लंबे समय तक वेब होस्टिंग में निवेश करना चाहते हैं तो आप साइटग्राउंड की होस्टिंग योजना ले सकते हैं।

कौन सी Web Hosting इस्तेमाल करें

बहुत से लोग जो ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं और अपना ब्लॉग बनाकर पैसा कमाना चाहते हैं, उन्हें नहीं पता कि उन्हें कौन सी होस्टिंग लेनी चाहिए जो उनके ब्लॉगिंग करियर को आगे ले जाए।

बहुत से लोग जिन्हें होस्टिंग के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, वे किसी भी होस्टिंग प्लान को लेने के बाद अपना ब्लॉग बनाते हैं और बाद में पछताते हैं।

नए ब्लॉगर जो अपना खुद का ब्लॉग बनाने की सोच रहे हैं और अगर आपका बजट ज्यादा नहीं है, तो आपके पैसे खर्च करके बहुत महंगी होस्टिंग लेने की जरूरत नहीं है। आप Hostgator, Bluehost कंपनी से साझा होस्टिंग योजना लेकर अपनी ब्लॉगिंग यात्रा शुरू कर सकते हैं।

कुछ समय बाद जब दैनिक 5000 से 10000 विज़िटर आपके ब्लॉग पर आने लगते हैं और आप अपने ब्लॉग से बहुत पैसा कमाना शुरू कर देते हैं, तब आप VPS सर्वर या क्लाउड सर्वर लेने के लिए अपनी वेब होस्टिंग को अपग्रेड कर सकते हैं।

आप अपनी वेबसाइट को साइटग्राउंड या ब्लूहोस्ट में माइग्रेट कर सकते हैं। इन होस्टिंग कंपनियों का प्रदर्शन बहुत अच्छा है और आप अपने ब्लॉग को लंबे समय तक चला सकते हैं।

लेकिन अगर आपका ब्लॉग बहुत लोकप्रिय हो जाता है और दैनिक लाखों आगंतुक आपके ब्लॉग पर जाने लगते हैं, तो हो सकता है कि आप इन कंपनियों की योजनाओं को अपग्रेड कर सकें या आप एक समर्पित सर्वर भी प्राप्त कर सकें।

हॉस्टिंग लेने से पहले इन बातों का ध्यान रखें

होस्टिंग लेने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातें जानना बहुत जरूरी है, क्योंकि गलत होस्टिंग चुनना आपकी वेबसाइट के लिए बिल्कुल भी सही नहीं होगा। होस्टिंग लेने से पहले, आइए जानते हैं कि क्या ध्यान रखना चाहिए।

1- किसी भी कंपनी से होस्टिंग खरीदने से पहले यह देखना बहुत जरूरी है कि होस्टिंग कंपनी कितनी पुरानी है क्योंकि नई वेब होस्टिंग कंपनी पर निर्भर रहना और उसकी होस्टिंग का इस्तेमाल करना जोखिम भरा काम हो सकता है।

  1. यदि आप एक नई वेब होस्टिंग कंपनी से वेब होस्टिंग नहीं खरीदते हैं जो बहुत लोकप्रिय और वास्तविक कंपनी नहीं है, तो यह आपके लिए सही होगा, ऐसी कंपनियों द्वारा प्रदान की गई सेवा की कोई गारंटी नहीं है।
  2. होस्टिंग कंपनियाँ दो प्रकार के सर्वर प्रदान करती हैं। पहला linux और दूसरा windows windows server linux से ज्यादा महंगा होता है जबकि linux एक ओपन सोर्स सर्वर होता है और यह windows से सस्ता और बेहतर होता है।
  3. होस्टिंग खरीदते समय सर्वर की लोकेशन बहुत मायने रखती है। यदि आप भारत के निवासी हैं, तो आपको भारत का सर्वर लेना चाहिए, ताकि जब भारत के आगंतुक आपकी साइट पर आएं तो सर्वर भारत में हो, क्योंकि आपकी साइट भरी हुई है, मुझे ज्यादा समय नहीं लगता।
  4. वेब होस्टिंग खरीदते समय, अच्छे राम, SSD डिस्क स्पेस, Cpanel, SSL सर्टिफिकेट, बैंडविड्थ, UPtime, डेली बैकअप, ईमेल, मंथली विजिटर, CDN, वेबसाइट नंबर जैसी चीजों पर ध्यान देना बहुत जरूरी है।
  5. किसी वेबसाइट के लिए इसका अपटाइम बहुत मायने रखता है। एक होस्टिंग का अपटाइम कम से कम 99.99% होना चाहिए। अगर आपने किसी ऐसी कंपनी से होस्टिंग ली है जिसका सर्वर डाउन है तो आपकी साइट या ब्लॉग की रैंकिंग बहुत कम होगी।

Free vs Paid Hosting में kya अंतर

बहुत से लोग मुफ्त और भुगतान किए गए होस्ट के बीच के अंतर को नहीं जानते हैं और वे सोचते हैं कि जब हम ऑनलाइन मुफ्त होस्टिंग प्राप्त कर रहे हैं, तो हमें होस्टिंग और होस्टिंग खरीदने का भुगतान क्यों करना चाहिए? यदि आप भी ऐसा ही सोचते हैं, तो हम आपको बता दें, फ्री और पेड होस्टिंग में एक बड़ा अंतर है।

  1. मुफ्त वेब होस्टिंग धोखाधड़ी कंपनियों द्वारा चलाई जाती है जो आपके डेटा को चुराते हैं जबकि आप भुगतान किए गए और असली वेब होस्टिंग कंपनी पर पूरी तरह भरोसा कर सकते हैं।
  2. कुछ होस्टिंग कंपनियां मुफ्त में खुद को बढ़ावा देने के लिए मुफ्त होस्टिंग सेवा प्रदान करती हैं और जब आप अपनी वेबसाइट को उनके सर्वर पर होस्ट करते हैं, तो उनके बैनर आपकी साइट के नीचे दिखाई देते हैं, जिसमें आपका नियंत्रण नहीं होता है और उनके मुफ्त में प्रचार होता है।
  3. मुफ्त होस्टिंग में, आपकी साइट पर आपका पूर्ण नियंत्रण नहीं है और आपकी साइट कब हटा दी जाएगी इसकी कोई गारंटी नहीं है।
  4. फ्री वेब होस्टिंग में, आपकी साइट सुरक्षित नहीं है और वायरस के हमले के कारण, आपकी साइट को हैक भी किया जा सकता है जबकि आपकी साइट पेड़ में सुरक्षित है।
  5. नि: शुल्क होस्टिंग Cpanel, वन-क्लिक वर्डप्रेस इंस्टॉलेशन, वेबसाइट बैकअप और बहुत अच्छी सुविधाएँ प्रदान नहीं करती है, जिससे वेबसाइट बनाना और प्रबंधित करना मुश्किल हो जाता है।
  6. आपको मुफ्त वेब होस्टिंग में तकनीकी सहायता नहीं मिलती है, इसलिए जब भी आपकी साइट पर कोई समस्या आती है या आपकी साइट डाउन होती है, तो उस समस्या को स्वयं ही हल करना होगा।

वेबसाइट बनाने के लिए किन चीजों की आवश्यकता होती है

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि वेबसाइट बनाने के लिए डोमेन और होस्टिंग का होना बहुत जरूरी है, लेकिन एक पूरी वेबसाइट के लिए कुछ अन्य चीजों का होना भी बहुत जरूरी है।

जब हम वेबसाइट बनाने के लिए डोमेन नाम को वेब होस्टिंग कंपनी के सर्वर से जोड़ते हैं, तो हमारी वेबसाइट बनाई जाती है, लेकिन यह वेबसाइट सिर्फ एक खाली जमीन की तरह है जिसे पंजीकृत किया गया है और पता मिल जाएगा। लेकिन इसमें न तो कोई घर बना है और न ही सोने और खाने की कोई व्यवस्था है।

जिस तरह से हम अपना घर बनाने के लिए सोचते हैं, हमारा घर कैसा दिखेगा और उसमें क्या चीजें होंगी, इसी तरह वेबसाइट बनाने के बाद हमें यह भी सोचना होगा कि हमारी वेबसाइट कैसी दिखेगी और हम किस तरह का कंटेंट बनाएंगे इसमें उपलब्ध है।

यदि आप वर्डप्रेस की मदद से एक वेबसाइट बनाते हैं, तो आप थीम और वर्डप्रेस प्लगइन का उपयोग करके एक सुंदर वेबसाइट बना सकते हैं, जिसके हजारों वीडियो आप YouTube पर भी पा सकते हैं, जिसके बाद आप बहुत आसानी से अपनी पसंद की वेबसाइट बना सकते हैं।

तो दोस्तों, अगर आपने इस लेख को पूरी तरह से पढ़ा है, तो आपको इसके बारे में Hosting Meaning से लेकर Web Hosting तक पता होगा और आपने इसे कब और कैसे खरीदा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *